स्वागत एवं व्यवसायिक परामर्श शिविर (लड़कियों के लिए)

शिविर: छात्राओं को दी कल्याणकारी योजनाओं व करियर की जानकारी

गांव खरक कलां में महिला एवं बाल विकास विभाग ने व्यावसायिक परामर्श कार्यक्रम का आयोजन
भिवानी, 20 जुलाई। बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत गांव खरक कलां स्थित राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा व्यावसायिक परामर्श शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में छात्राओं को प्रदेश सरकार द्वारा लड़कियों के चलाई जा रही विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी गई। इसके अलावा छात्राओंं को उनके करियर के संबंधित भी विस्तार से बताया गया। 
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जिला कार्यक्रम अधिकारी दीपिका बजाज ने कहा कि कन्या भू्रण हत्या पर लगाम लगाने के लिए विशेषतौर पर महिलाओं का जागरूक होना जरूरी है। उन्होंने कहा कि महिलाएं अगर जागरूक हों तो कन्या भू्रण हत्या पर पूर्णरूप से अंकुश लग सकता है। उन्होंने कहा कि लिंग जांच व कन्या भू्रण हत्या की जानकारी मिलने पर इसकी सूचना तुरंत महिला एवं बाल विकास विभाग, स्वास्थ्य विभाग या जिला प्रशासन को दें ताकि ऐसे करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई अमल में लाई जा सके। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा महिलाओं के उत्थान के लिए अनेक योजनाएं क्रियान्वित की जा रही हैं। उन्होंने कहा कि आत्म निर्भर बनने के लिए छात्राओं को अपने करियर की तरफ ध्यान देना जरूरी है। छात्राओं के बताया कि शिक्षा के साथ-साथ खेलों में रूचि रखें। खेलों से भी अपना भविष्य बनाया जा सकता है। कार्यक्रम में समेकित बाल संरक्षण योजना से रोशनलाल ने पोक्सो एक्ट पर प्रकाश डाला। 
कार्यक्रम में बेटी बचाओ-बेटी बचाओ कार्यक्रम के जिला प्रभारी सतेंद्र परमार, भाजपा एससी प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष जगदीश मिताथल, महिला मोर्चा प्रधान बबीता तंवर व युवा मोर्चा के जिला उपाध्यक्ष अमित खरक ने भी अपने विचार रखे और छात्राओं को प्रेरित किया। इस दौरान कक्षा दसवीं में अव्वल आने वाली छात्राओं को सम्मानित भी किया। 
—————————————-